city-and-states

विश्व धरा दिवस: घरों में कैद हुआ इंसान, गुनगुना रही फिजा, शहर में नाचा मोर, बालकनी में कूकी कोयल

मोर आजकल जंगल में ही नहीं नाचता। वो सिविल लाइन जैसे पॉश इलाके में भी अब रोज सड़कों पर झूमता नजर आ रहा है। बेगमपुल के ऊपर तोते उड़ रहे हैं तो चिड़ियों की गुनगुनाहट शहर के हर इलाके में सुनाई दे रही है। कानों में रस घोलती कोयल की कूक हो या फिर बालकनी और घर के आंगन में आकर गुनगनाती नन्हीं चिड़िया का कलरव। ये नजारा आजकल शहर में हर तरफ नजर आ रहा है। दिल्ली रोड हो या फिर शहर में बेगमपुल जैसा व्यस्त रहने वाला चौराहा। लॉकडाउन के इस एक महीने में इंसान जहां घरों में कैद हुए हैं वहीं, कभी-कभार ही दिखने वाले जीव-जंतु और पंछी बड़ी तादात में नजर आने शुरू हो गए हैं। कोई कालोनी, कोई सड़क ऐसी नहीं हैं जहां इन पंछियों का कलरव मन नहीं मोह ले रहा है। गुनगुनाकरइठलाकरमानो वे इंसान से कह रहे होंये पृथ्वी तुम्हारी ही नहीं हमारी भी है

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Apr 22, 2020, 16:29 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




विश्व धरा दिवस: घरों में कैद हुआ इंसान, गुनगुना रही फिजा, शहर में नाचा मोर, बालकनी में कूकी कोयल #NaturePhotography #NaturePhotos #NatureInLckdown #CoronaUpdateInIndia #WestUpCoronaUpdate #ShineupIndia