city-and-states

घर में घुसे बदमाश को महिला ने खदेड़ा, फायरिंग में लगी गोली

संभल। नखासा थाना क्षेत्र के गांव बैटला में शुक्रवार की रात घर में घुसे बदमाश को देखकर महिला ने शोर मचाया। इसके बाद हाथ में डंडा लेकर हिम्मत दिखाते हुए बदमाश को खदेड़ा। बदमाश छत से कूद गया लेकिन जब महिला ने नीचे की ओर झांकी तो उसके साथी बदमाशों में से किसी एक ने गोली चला दी। गोली महिला के हाथ में लगी। ग्रामीणों ने इसके बाद बदमाशों को तलाशा। पुलिस भी पहुंची पर कोई हाथ नहीं आया। बैटला गांव निवासी भट्ठा मजदूर भूरे सिंह और उनका बड़ा बेटा रवि बरामदे में सो रहे थे। छोटा बेटा विकास घर के अंदर कमरे में सो रहा था। उनकी पत्नी मिथलेश उस कमरे में सो रहीं थीं, जिसका दरवाजा सीढ़ियों की ओर खुलता है। शुक्रवार की रात करीब साढ़े बारह बजे मिथलेश को अपने घर में एक बदमाश के घुसने की आहट हुई। वे चीखीं तो बदमाश छत की ओर भागा। मिथलेश ने बताया कि वे जाग रहीं थीं और बाकी लोग सो रहे थे। वह डंडा लेकर अपने जीने से सीधे छत की ओर दौड़ीं। पति और बेटे भी शोर सुनकर जागे और उनके साथ ही दौड़े। घर के लोग छत पर पहुंचे वहां बदमाशों को देखने के लिए नीचे की तरफ झांक रहे थे तभी एक गोली चली जिसमें उनके हाथ में गोली लग गई। वह घायल होकर गिर गईं। परिजनों ने उन्हें उठाया और गाड़ी से संभल के जिला अस्पताल लाए। वहीं गांव के लोग भी एकत्र हो गए। थाना पुलिस भी पहुंची। नखासा थाना प्रभारी निरीक्षक धर्मपाल सिंह ने बताया कि पीड़ित पक्ष के बयान लिए हैं। भूरे सिंह की तहरीर पर अज्ञात बदमाश के खिलाफ हाथ में चोट पहुंचाने की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। महिला को उपचार के बाद उसके घर भेज दिया गया है। कोई बदमाश गिरफ्तार नहीं हुआ है।मिथलेश बोली, अगर मैं झुकती नहीं तो सीने में लगती गोलीमैं अपने कमरे में सो रही थी। पति-बेटे बरामदे में सो रहे थे। एक बेटा अंदर के कमरे में था। मेरे कमरे का दरवाजा खुला था। मुझे खटपट की आवाज आई तो मैं शोर मचाते हुए चिल्लाई-कौन है, कौन है। इस पर एक बदमाश सीढ़ियों की ओर भागता दिखाई दिया। मैं शोर मचाते हुए उसके पीछे ही दौड़ पड़ी। बदमाश मेरे देखते-देखते छत से कूदा। मैं नीचे की ओर झांकी तो तीन चार लोग और दिखे। इस बीच एक बदमाश ने ऊपर की तरफ गोली चला दी। गोली की आवाज होते ही मैं जान बचाने को झुक गई। अगर मैं झुकती नहीं तो मेरे सीने में गोली लग जाती। गोली लगने पर जब मैं गिर गई तो पति और बेटों ने मुझे उठाया। वहीं फायर की आवाज सुनकर आसपास के लोग भी आ गए। मैं अस्पताल आ गई। मिथलेश, बदमाश को खदेड़ने वाली महिलामैं अपने घर में सो रहा था। अचानक गोली की आवाज आई तो जागा और पड़ोसी भूरे सिंह के घर की छत पर पहुंचा। वहां पर भूरे सिंह की पत्नी मिथलेश घायल अवस्था में पड़ीं थीं। गांव वालों के साथ मैंने बदमाशों को तलाशा लेकिन कोई हाथ नहीं आया। विजय सिंह, पड़ोसीघर के भीतर एक ही बदमाश आया था लेकिन भागते समय पांच बदमाशों को मैंने देखा है। सभी नई उम्र के थे। टोपी वाली जैकेट पहने हुए थे। ऐसा लगता है कि वे चोरी या लूट के इरादे से आए थे लेकिन मां जाग रहीं थीं। इसलिए अपने मकसद में कामयाब नहीं हो सके। उन्हें भागना पड़ा। घर में घुसे बदमाशों ने कोई लूटपाट नहीं की।विकास, मिथलेश का बेटा

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Nov 22, 2020, 01:56 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Crime Police Woman Docoits



घर में घुसे बदमाश को महिला ने खदेड़ा, फायरिंग में लगी गोली #Crime #Police #Woman #Docoits #ShineupIndia