city-and-states

इस एक गलती की वजह से चार दिन तक सदमे में रहा पूरा परिवार, सामने आई ये बड़ी बात

कोरोना जांच में बड़ी लापरवाही सामने आई है। करीमनगर की जिस महिला को स्वास्थ्य विभाग ने चार दिन पहले कोरोना पॉजीटिव बताया था अब उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। रिपोर्ट आने के बाद घरवालों ने राहत की सांस ली लेकिन इस गलती की वजह से चार दिन तक पूरा परिवार सदमे में रहा। उधर, उस इलाके को हॉटस्पॉट बना दिया गया था जिसे अब सामान्य किया जा रहा है। इस लापरवाही पर महिला के बेटे ने कड़ी नाराजगी जताई। साथ ही कहा कि मां 2012 के बाद दिल्ली नहीं गई हैं, फिर भी ट्रैवल हिस्ट्री दिखाकर कोरोना का मरीज बता दिया गया। इससे पूरा परिवार व कारोबार प्रभावित हुआ है। जानकारी के मुताबिक, करीमनगर की एक महिला की चार दिन पहले तबीयत खराब हुई थी। घरवाले उसे लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उसे मेडिसिन वार्ड में भर्ती कराया। संदेह होने पर उसका नमूना कोरोना जांच के लिए भेजा गया। तीन दिन पहले प्रशासन को इस बात की सूचना मिली कि महिला संक्रमित है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 30, 2020, 09:52 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




इस एक गलती की वजह से चार दिन तक सदमे में रहा पूरा परिवार, सामने आई ये बड़ी बात #CoronaCaseInGorakhpur #TotalCaseInGorakhpur #GorakhpurNews #GorakhpurCoronaNews #HealthDepartmentGorakhpur #ShineupIndia