city-and-states

उत्तराखंड: ऑनलाइन शॉपिंग के मामले में दायर याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज, याचिकाकर्ता को दिया ये आदेश

नैनीताल हाईकोर्ट में आज ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियोंको लेकर दायर याचिका पर सुनवाई हुई।कंपनियों द्वारा उत्पाद कहां बना है, किस देश में बना है और उसकी मदर कंपनी किस देश की है, इसकी सही जानकारी प्रोडक्ट में नहीं दिखाने के खिलाफ दायर जनहित याचिका पर सुनवाई के बाद याचिका खारिज करते हुए याचिकाकर्ता को अपनी शिकायत केंद्र सरकार के पास दर्ज कराने को कहा है। कोर्ट ने जनहित याचिका को इस आधार पर खारिज कर दिया है कि याचिकाकर्ता ने अपनी शिकायत केंद्र सरकार को नहीं भेजी थी। कोर्ट ने यह भी आदेश दिया है कि अगर शिकायत पर केंद्र सरकार संबंधित कंपनी पर कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं करती है तो याचिकाकर्ता दोबारा याचिका दायर कर सकता है। सुनवाई के दौरान असिस्टेंट सॉलिसिटर जनरल राकेश थपलियाल ने केंद्र सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि याचिकाकर्ता ने केंद्र सरकार के समक्ष अभी तक इस संबंध में कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई है। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश रवि कुमार मलिमथ एवं न्यायमूर्ति एनएस धानिक की खंडपीठ के समक्ष मामले की सुनवाई हुई। मामले के अनुसार नैनीताल निवासी अवनीश उपाध्याय ने हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर कर कहा था कि ऑनलाइन शॉपिंग कराने वाली कंपनियां अमेजन, फ्लिपकार्ट, नायका ई रिटेल, स्नैपडील, अजीजो, लाइफ स्टाइटल इंटरनेशनल कंपनियों द्वारा ऑनलाइन शॉपिंग कराते वक्त प्रोडक्ट कहां बना है, किस देश मे बना है और उसकी मदर कंपनी किस देश की है, यह नहीं बताया जाता है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Aug 10, 2020, 22:58 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




उत्तराखंड: ऑनलाइन शॉपिंग के मामले में दायर याचिका हाईकोर्ट ने की खारिज, याचिकाकर्ता को दिया ये आदेश #UttarakhandHighCourt #UttarakhandNews #OnlineShopping #OnlineShoppingCompany #ShineupIndia