education

सीबीएसई पाठ्यक्रम से कई चैप्टर हटाए जाने को लेकर एचआरडी मंत्री ने कही ये बात

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक का कहना है कि सीबीएसई पाठ्यक्रम से कुछ विषयों को हटाए जाने पर टिप्पणियों के जरिएझूठा नेरेटिव पेश किया जा रहा है। उन्होंने यह बात गुरुवार को कही। एचआरडी मंत्री ने कहा कि बेखबर टिप्पणियों के जरिए सीबीएसई पाठ्यक्रम में कटौती को लेकर झूठी कहानी का चित्रण किया जा रहा है।उनका यह बयान सीबीएसई पाठ्यक्रम से राष्ट्रवाद, संघवाद और धर्मनिरपेक्षताजैसे कई चैप्टर को हटाए जाने पर हो रहेविरोध के बाद आया है। बता दें कि सीबीएसई पाठ्यक्रम में कटौती को लेकर विपक्ष ने आरोप लगाया था कि एक खास विचारधारा के प्रचार के लिए कई अध्यायों को हटाया गया है। इसे भी पढ़ें- सीबीएसई ने पाठ्यक्रम से हटाए धर्मनिरपेक्षता, जीएसटी और राष्ट्रवादजैसे ये चैप्टर, यहां देखें पूरी सूची एचआरडी मंत्री का कहना है कि सीबीएसई पाठ्यक्रम से कुछ विषयों की कटौती पर कईअसंगत टिप्पणियां की गई हैं। जिनका मकसद कुछ हटाए गए चैप्टरों के जरिए झूठे आख्यान को चित्रित करना और मामले को सनसनीखेज बनाना है। उन्होंने कहा कि सीबीएसई के पाठ्यक्रम में चैप्टरों की कटौती एक बार के लिए है, जो कि कोरोना वायरस की वजह से पैदा हुई स्थिति को देखते हुए की गई है। इसका मकसद विद्यार्थियों के मानसिक तनाव को कम करना है। यह कटौती विषय विशेषज्ञों व शिक्षाविदों के सुझाव के बाद की गई है। एचआरडी मंत्री ने कहा कि हमारा विनम्र निवेदन है कि शिक्षा से राजनीति को छोड़े और राजनीति को और ज्यादा शिक्षित बनाएं। गौरतलब है कि विद्यार्थियों के बोझ को कम करने के लिएसीबीएसई के नौवीं से लेकर बारहवीं कक्षा तक के सिलेबस में तीस फीसदी कटौती की गई है। जिसे लेकरपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि वह इस बात से हैरान है कि सीबीएसई ने पाठ्यक्रम के भार को कम करने के नाम पर नागरिकता, संघवाद जैसे विषयों को हटाने का का निर्णय किया है। हम इसका कड़ा विरोध करते हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jul 09, 2020, 15:20 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




सीबीएसई पाठ्यक्रम से कई चैप्टर हटाए जाने को लेकर एचआरडी मंत्री ने कही ये बात #UnionHrdMinister #UnionHrdMinisterRameshPokhriyal #CbseSyllabus #CbseSyllabus2020 #Covid-19 #ShineupIndia