national

Fact Check: इटली के कोरोना संक्रमित बताकर मां-बेटे की मार्मिक तस्वीर हो रही वायरल, जानिए पूरी सच्चाई

सारी दुनिया के आगे कोरोना वायरस एक बड़ी चुनौती है, ठीक उसी प्रकार फेक न्यूज भी। अमेरिका से लेकर इटली तक इस महामारी से मरने वालों का आंकड़ा बहुत बड़ा है। आजकल सोशल मीडिया पर एक बहुत मार्मिक तस्वीर वायरल हो रही है, तस्वीर में एक महिला एक छोटे बच्चे को अपने सीने से लगाए दिख रही है। इस तस्वीर के साथ यह दावा किया जा रहा है कि यह महिला कोरोना वायरस से संक्रमित है और वह आखिरी वक्त में अपने बच्चे को गले लगा रही है। यह घटना इटली की है। अमर उजाला ने अपनी पड़ताल में पाया कि यह दावा फर्जी है। यह तस्वीर कोरोना मरीज की नहीं है, वॉशिंगटन के फ्रेड हचिंसन कैंसर सेंटर की है जो 1985 में खींची गयी थी। इसका कोरोना वायरस से कोई लेना देना नहीं है। दावाकर्ता- सोशल मीडिया यूजर्स दावे का आधार- एक वायरल तस्वीर क्या किया जा रहा है दावा- यह महिला कोरोना वायरस से संक्रमित है और वह आखिरी वक्त में अपने बच्चे को गले लगा रही है

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Apr 24, 2020, 18:36 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




Fact Check: इटली के कोरोना संक्रमित बताकर मां-बेटे की मार्मिक तस्वीर हो रही वायरल, जानिए पूरी सच्चाई #CoronaUpdateInIndia #ShineupIndia