city-and-states

प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाने की प्रक्रिया शुरू

प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाने की प्रक्रिया शुरूसहारनपुर। कोरोना वायरस के चलते लगे लॉकडाउन में दूसरे राज्यों और शहरों से वापस आए प्रवासी श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार दिलाने की कवायद शुरू हो गई है। इसके लिए उद्योग उपायुक्त ने उद्यमियों के संगठनों से श्रमिकों की आवश्यकता की लिस्ट भी मांगी है। ताकि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाया जा सके। कई उद्यमियों ने अपने यहां प्रवासी श्रमिकों को काम पर रखना भी शुरू कर दिया।जनपद में प्रवासी श्रमिकों की संख्या 9745 है। इनमें शहरी क्षेत्र में 1935 और ग्रामीण क्षेत्र में 7810 श्रमिक हैं। बाहर से अपने घरों को पहुंचे श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार दिलाने के लिए विभिन्न सरकारी विभागों ने कवायद शुरू कर दी है। जिला उद्योग केंद्र ने इस प्रवासी श्रमिकों का ट्रेड वाइज डाटा भी तैयार कर लिया है। इसमें कुशल और अकुशल श्रमिकों को भी चिन्हित किया है। ताकि उद्योगों को उनके जरूरत के हिसाब से प्रवासी श्रमिकों को भेजा जाए। उद्योग विभाग ने विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के तहत कुछ प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया है। उद्योगों में भी जरूरत के हिसाब से प्रवासी श्रमिकों को रखा जा रहा है। उप श्रमायुक्त शक्ति सेन मौर्य और श्रम प्रवर्तन अधिकारी एनके चौधरी ने बताया कि प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाने के लिए विभिन्न सरकारी विभाग सहयोग करने में जुटे हैं। श्रम विभाग की 90 दिनों तक निर्माण कार्य करने के बाद निर्माण श्रमिकों के लिए चलाई जा रही योजनाओं के तहत पंजीकरण किया जाएगा।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jul 12, 2020, 23:51 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Saharanpur news



प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाने की प्रक्रिया शुरू #SaharanpurNews #ShineupIndia