hindi

चंडीगढ़: सोनू शाह हत्याकांड में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई समेत तीन आरोपी नहीं हुए पेश, दोबारा प्रोडक्शन वारंट जारी

प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह की हत्या के मामले में वीरवार को तिहाड़ जेल से अभिषेक उर्फ बंटी और चंडीगढ़ से दो आरोपियों को एडीजे जयबीर सिंह की अदालत में पेश किया गया। मामले में मुख्य आरोपी लॉरेंस बिश्नोई समेत छह आरोपियों के प्रोडक्शन वारंट इश्यू किए गए थे। लेकिन लॉरेंस समेत तीन आरोपी पेश नहीं हुए। अब 12 नवंबर के लिए फिर प्रोडक्शन वारंट इश्यू किया गया है। प्रॉपर्टी डीलर सोनू शाह को 28 सितंबर 2019 को सेक्टर-45 के बुड़ैल गांव में कार्यालय के अंदर हमलावरों ने 10 गोलियां मारी थीं। ये भी पढ़ें-लखीमपुर कांड: आज पीड़ित परिवारों को 50-50 लाख रुपये के चेक सौंपेगी पंजाब सरकार दो और लोगों को लगी थी गोलियां इस दौरान उसके दो सहयोगियों को भी गोली लगी थी। सूत्रों ने बताया था कि हमलावर हत्या से कम से कम चार दिन पहले शहर पहुंचे थे। इसके बाद उन्होंने योजना को अंजाम देने से पहले रेकी की। बाद में वारदात को अंजाम देकर आरोपी अंबाला की ओर भाग गए थे। सेक्टर-34 (दक्षिण) थाने में केस दर्ज किया गया था। इस मामले में दो आरोपी तिहाड़ जेल, दो चंडीगढ़, एक अंबाला और लॉरेंस बिश्नोई अजमेर जेल में बंद हैं। ये भी पढ़ें-बठिंडा: अजीत रोड पर हत्या करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार, दूसरे युवक की तोड़ दी थी दोनों टांगें दिल्ली पुलिस ने की थी बड़ी कार्रवाई प्रॉपर्टी डीलर और हिस्ट्रीशीटर सोनू शाह की हत्या में कथित रूप से शामिल लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के एक वांछित शार्प शूटर को मुंबई से गिरफ्तार किया गया था। वह उन छह अपराधियों में शामिल था, जिन्हें दिल्ली पुलिस ने 16 अप्रैल को तीन राज्यों से गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान बिश्नोई ने खुलासा किया था कि सोनू शाह की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाली फेसबुक पोस्ट उसके एक गुर्गे ने डाली थी।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Oct 22, 2021, 12:59 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »


सूत्रों ने बताया था कि हमलावर हत्या से कम से कम चार दिन पहले शहर पहुंचे थे। इसके बाद उन्होंने योजना को अंजाम देने से पहले रेकी की। बाद में वारदात को अंजाम देकर आरोपी अंबाला की ओर भाग गए थे।