city-and-states

प्रताप बाजवा की जाखड़ को चुनौती, बोले- मेरे साथ सोनिया गांधी के पास चलें, देखें- किसे घर से निकाला जाता है 

सांसद प्रताप सिंह बाजवा शुक्रवार को हाथी गेट में जहरीली शराब से मरने वाले लोगों के पारिवारिक सदस्यों से मिलने पहुंचे। बाजवा ने मृतकों के परिवार वालों से दुख व्यक्त करते हुए सारे घटनाक्रम का ब्योरा लिया। इसके बाद बाजवा ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर कई सवाल खड़े किए।पत्रकारों से बातचीत में बाजवा ने कहा कि अमृतसर में दो साल पहले दशहरे पर रेल हादसा हुआ था। उस मामले में भी एसआईटी बनाई गई थी जो बेसिट्टा रही। इसके बाद बटाला में पटाखा फैक्ट्री में कई लोग मारे गए थे जिसके लिए एसआईटी बनाई गई थी और वह भी बेसिट्टा ही रही। उन्होंने कहा कि इस जहरीली शराब मामले की जांच सीबीआई से करवाई जानी चाहिए। पंजाब सरकार को लिख कर देना चाहिए कि इस मामले की जांच सीबीआई करे और पंजाब पुलिस उनकी मदद करेगी। खुद सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कबूला है कि यह हत्या है। वह और शमशेर सिंह दूलों तीन दिन पहले राज्यपाल से मिले थे और उन्हें बताया था कि पिछले तीन सालों से शराब के कारोबार में बड़े पैमाने पर चूना लग रहा है। पिछले तीन सालों में सरकार को 2700 करोड़ का चूना लगा है। पुलिस और एक्साइज के अधिकारियों की मिलीभगत से पंजाब के खजाने को चूना लगाया जा रहा है। सिर्फ कारिंदे पकड़ लिए गए और वह भी सातवें दिन जमानत पर बाहर आ गए। मेरे साथ सोनिया गांधी के पास चलें जाखड़, देखें किसे घर से निकाला जाता है इस दौरान राज्यसभा सांसद प्रताप सिंह बाजवा ने अपनी ही पार्टी की सरकार पर कई सवाल खड़े किए। बाजवा ने पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ को चुनौती देते हुए कहा कि वह मेरे और शमशेर सिंह दूलों को साथ लेकर सोनिया गांधी के पास चलें। तब देखेगे कि सोनिया गांधी जाखड़ को घर से निकालती है या फिर उन दोनों को। इन लोगों के पास ताकत नहीं जो उनको निकाल सके। वहीं प्रताप बाजवा ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि उनके द्वारा शोर मचाने के बाद आज कुंभकरण पांच महीने के बाद घर से बाहर निकले हैं। बाजवा ने कैप्टन पर आरोप लगाते हुए कहा कि एक हफ्ता पहले उन्होंने मीडिया के जरिये कहा था कि उन्हें प्रताप बाजवा और दूलों की चिट्ठी ही नहीं मिली और अगर मिली है तो वह उन चिट्ठियों का जवाब देना जरूरी नहीं समझते। बाजवा ने कहा कि सीएम का फर्ज है कि हर किसी के सवाल का जवाब दे।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Aug 07, 2020, 20:49 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




प्रताप बाजवा की जाखड़ को चुनौती, बोले- मेरे साथ सोनिया गांधी के पास चलें, देखें- किसे घर से निकाला जाता है  #PunjabNewsInHindi #PratapSinghBajwa #Meets #VictimsFamilies #Batala #PunjabNews #पंजाबकांग्रेस #कैप्टनअमरिंदरसिंह #सुनीलजाखड़ #ShineupIndia