city-and-states

कोरोना की दूसरी लहर से मुकाबले की तैयारी शुरू

चंडीगढ़। पंजाब में कोरोना महामारी के बढ़ रहे मामलों से मुकाबले के लिए मुख्य सचिव विनी महाजन ने शनिवार को प्रशासनिक सचिवों को संबंधित जिलों का दौरा करने और कोविड-19 के लिए किए गए प्रबंधों का जायजा लेने का निर्देश दिया, ताकि महामारी की संभावित दूसरी लहर से पहले मरीजों और उनके संपर्कों की पहचान के अलावा कोविड टेस्टिंग के ढांचे व अस्पतालों में तीसरे स्तर की स्वास्थ्य सेवाओं को और मजबूत किया जा सके। मुख्य सचिव ने कहा कि सभी संबंधित अधिकारियों को पहले ही निर्देश जारी किए जा चुके हैं कि प्रत्येक कोविड मरीज के कम से कम 15 संपर्कों की पहचान की जाए और उनकी कोविड-19 के दिशानिर्देशों के मुताबिक जांच की जाए। विनी महाजन ने कहा कि राज्य के लोगों की भी यह जिम्मेदारी बनती है कि वह सख्ती से सुरक्षा नियमों का पालन करें। उन्होंने लोगों से अपील की कि जब तक कोविड की वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक मिशन फतेह के मंत्र मास्क ही वैक्सीन है को अपनाएं। डीजीपी दिनकर गुप्ता ने कहा कि पुलिस कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सुरक्षा नियमों को लागू करने में सिविल प्रशासन के साथ मिलकर काम करेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव हुसन लाल और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के प्रमुख सचिव डीके तिवारी ने कोरोना वायरस की संभावित दूसरी लहर के मुकाबले के लिए पूरी तैयारी होने का भरोसा दिया। मुख्य सचिव ने जिलों में हालात का लिया जायजाइसके बाद मुख्य सचिव ने कोविड के नए मामलों में वृद्धि का जायजा लेने के लिए डिप्टी कमिश्नरों, पुलिस कमिश्नरों, एसएसपी और म्युनिसिपल कमिश्नरों के साथ वीडियो कांफ्रेंस द्वारा मीटिंग की। उन्होंने डिप्टी कमिश्नरों, एसएसपी और स्वास्थ्य अधिकारियों से कहा कि वह बड़े सामाजिक भीड़भाड़ वाले आयोजनों पर सख्ती से नजर रखें और इसके साथ ही घरों में एकांतवास मरीजों की नियमित निगरानी भी यकीनी बनाएं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Nov 22, 2020, 02:02 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




कोरोना की दूसरी लहर से मुकाबले की तैयारी शुरू #CoronaNews #PunjabNews #ViniMahajan #ShineupIndia