city-and-states

आगराः फैक्टरी में अग्निकांड के बाद जांच समिति की रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा, बड़ी वजह आई सामने

टॉप ब्लास्ट और आगरा केमिकल फैक्टरी के पंजीकरण अलग-अलग होने के बावजूद दोनों एक ही परिसर में चल रहीं थीं, इनमें दो की जगह निकास द्वार भी एक ही था। इतना ही नहीं, आगरा केमिकल का फैक्टरी एक्ट में पंजीकरण भी नहीं था। ये जानकारी इन फैक्टरियों में लगी भीषण आग के मामले में जांच कर रही समिति के सामने आई है। समिति ने प्रथम दृष्टया फैक्टरियों में नियमों का उल्लंघन माना है। जांच अभी जारी है। आग सात सितंबर को लगी थी। इसे बुझाने के लिए वायुसेना और मथुरा रिफाइनरी तक की दमकल बुलाई गई थीं। जांच अधिकारी एडीएम वित्त योगेंद्र कुमार ने बताया कि सबसे बड़ी लापरवाही निकास द्वार का एक होना मिली है। उप निदेशक कारखाना से फैक्टरियों के संबंध में दस्तावेज मांगे गए हैं। संचालकों ने फैक्टरियों के नक्शे प्रस्तुत नहीं किए हैं। बाकी दस्तावेज मिलने के बाद ही कोई कार्रवाई होगी।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Sep 17, 2020, 10:26 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




आगराः फैक्टरी में अग्निकांड के बाद जांच समिति की रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा, बड़ी वजह आई सामने #MassiveFireBreaks #MassiveFire #MassiveFireInFactory #ChemicalFactory #ShineupIndia