city-and-states

शराब की होम डिलीवरी को ऑनलाइन दिए 15 हजार, हो गया ठगी का शिकार

लॉकडाउन के बीच ऑनलाइन ठगी के मामले बढ़ने से डीजीपी सीताराम मरडी ने लोगों से अपील की है कि वे ऑनलाइन शॉपिंग के लिए वेबसाइट का चयन करते समय सतर्कता बरतें। वेबसाइट को चेक करने के बाद ही किसी उत्पाद को खरीदने के लिए राशि ट्रांसफर करें। उन्होंने यह अपील हाल में हुई कई ठगी की घटनाओं के बाद की है। बताया कि हाल ही में एक व्यक्ति ने ऑनलाइन संपर्क कर शराब की होम डिलीवरी को 15 हजार रुपये दिए, लेकिन न शराब पहुंची और न ही किसी माध्यम से ऑर्डर लेने वाले से संपर्क हो पाया। अब पुलिस से शिकायत की गई है। मरडी ने लोगों से कहा कि वे किसी भी सूरत में पुलिस कर्मियों या अन्य कर्मियों से बदसलूकी न करें। प्रदेश में पुलिस से बदसलूकी पर अब तक नौ मामले दर्ज किए गए हैं। उन्होंने पुलिस कर्मियों से भी आचरण ठीक रखने को कहा है। डीजीपी ने पंचायत प्रधानों की सराहना की। कहा कि लगातार की जा रही अपील के बीच अब प्रधान और ग्रामीण खुद किसी भी बाहरी व्यक्ति के आने पर पुलिस को सूचना दे रहे हैं। दोहराया कि क्वारंटीन अवधि के दौरान बाहर न निकलें और मास्क जरूर पहनें। जरूरत महसूस होने पर पुलिस से 112 नंबर पर संपर्क करें। उन्होंने एक युवती का उदाहरण दिया- उसने पढ़ाई कर ली, लेकिन इसके बाद उसने अपनी मां के साथ काम कर खाना बनाना सीख लिया और अब वह सोशल मीडिया पर स्वादिष्ट व्यंजन बनाकर वीडियो अपलोड कर रही है। मरडी ने मंडी के जोगिंद्रनगर में 90 साल की महिला की ओर से 10 हजार रुपये रेडक्रॉस फंड देने की सराहना की। कहा कि उस वृद्धा के पास सिर्फ 25 हजार रुपये थे, लेकिन अपनी इच्छानुसार दान किया। लोगों को भी आगे आकर कोविड फंड के लिए योगदान देना चाहिए।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Apr 24, 2020, 18:35 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




शराब की होम डिलीवरी को ऑनलाइन दिए 15 हजार, हो गया ठगी का शिकार #Lockdown02 #CoronavirusUpdate #DgpHimachalAppeal #OnlineShopping #OnlineFraudShimla #ShineupIndia