national

पीएम मोदी का 70वां जन्मदिन: जेपी नड्डा ने कहा- मोदी हैं, तो भरोसा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज विश्वास और उम्मीद के प्रतीक हैं। उनके नेतृत्व में भारत आंतिरक मोर्चे, अंतरराष्ट्रीय मंच और आमजन के विषयों पर दृढ़ विश्वास के साथ आगे बढ़ रहा है।जिन संकल्पों को लेकर भाजपा की स्थापना हुई थी, जिन विषयों पर पार्टी मुखर और सक्रिय रही और जिन कार्यों को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पंडित दीनदयाल उपाध्याय से लेकर अटल बिहारी वाजरेयी जैसे मनीषियों ने आगे बढ़ाया, उनके जरिए मोदी जी के नेतृत्व में समृद्ध, सुरक्षित, आत्मनिर्भर भारत साकार होता दिखाई दे रह है। मोदी जी के नेतृत्व में इस छह सालों में देश नागरिकों में गर्व और स्वाभिमान का संचार हुआ। विश्व समुदाय का भारत के प्रति देखने और सोचने का नजरिया बदला। सवा सौ करोड़ देशवासी हमारी क्षमता और गौरव बोध के संबल बने। यह सक्षम नेतृत्व का परिणाम है। आम नागरिकों ने प्रधानमंत्री मोदी में अपने जीवन की खुशहाली का सपना देखा है। उनके हर वाक्य को मंत्र माना। उनके हर अभियान में भागीदार बने। देश के प्रधानमंत्री के प्रति यह भाव व सम्मान होना देश और नागरिकों का सम्मान है, लोकतंत्र का सम्मान है। अटल जी की नीति पर अमल हमारे पड़ोसियों से संबंध जिन पूर्व नीतियों और निर्णयों के आधार पर चले आ रहे थे, उन्हें प्रगाढ़ करने के प्रधानमंत्री मोदी के प्रयासों के देश जानता है। अटल जी के कथन, मित्र बदले जा सकते है पड़ोसी नहीं, की दृष्टि से अपने पड़ोसियों से मित्रता को जीवंत करने काप्रयास किया। पाकिस्तान की दशकों पुरानी नीति पर भारत का पुराना रवैया और वर्तमान तेवर पड़ोसी देख चुका है। आज चीन के साथ सीमा पर बनी स्थिति में देश को मोदी के नेतृत्व में अटूट विश्वास है। आमजन का जीवन सुधारा गरीबी और आम जनता, अभी तक पोस्टरों और नारों में स्थाई भाव के साथ मौजूद थे। मोदी ने उनकी चिंताओं के समाधान को धरातल पर उतारा। सरकार की ओर टकटकी लगाकर प्रतीक्षा करने वाले आमजन को विश्वास दिलाया कि वह उन्हीं की सेवा के लिए कृत संकल्प हैं। आज देश के नागरिक सरकार की योजनाओं का लाभ ले रहे हैं। मोदी जी के नेतृत्व में गरीब को ध्यान में योजना और नीति प्रत्यक्ष रूप से गरीब की सेवा कर रही है। उनके मूल भूत समस्याओं का समाधान हो रहा है। जनधन खाते , रोजगार, आवास योजना, उज्ज्वला योजना, किसान सम्मान निधि और आयुष्मान भारत जैसे विषय बताते हैं कि सत्ता सुख भोगने या पीढ़ियों को उपकृत करने का साधन नहीं है। लीक से हटकर मोदी ने टू द पीपल, फॉर द पीपल, बाय द पीपल के विचार को सार्थक किया है। आमजन को सरकार की उपयोगिता, उसके निर्णय और स्वयं नागरिक होने की जिम्मेदारी के बोध होने और अभियानों में नागिरकों की भागीदारी सुश्निश्चित करने का वातावरण बनाया। वोट बैंक का कुचक्र तोड़ा पूर्व दलों द्वारा सत्ता को स्थायी बनाए रखने के उपक्रम चले। वोट बैंक के खेल के माइंडसेट से बाहर निकल कर देश के लिए सोचने का नजरिया मोदी जी ने दिया। उनके लिए गरीब जरूरतमंद की चिंता सबसे पहले है। विकास के अवसर क्षेत्र, वर्ग या व्यक्ति के आधार पर न होकर आवश्यकता के आधार पर होंगे। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाकर इसी विचार को पुष्ट किया। यह दिखाया कि सबका विकास समान अधिकारों के साथ होगा। अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने का सपना भी मोदी सरकार में ही मुमकिन हुआ। मुस्लिम बहनों के लिए तीन तलाक जैसा अपमानजनक विषय समाप्त किया। आजादी के बाद से ही सरकारों ने सरकारी सिस्टम को अपने निजी हितों को साधने और अपने सिस्टम को अपने निजी हितों को साधने और अपने सांचे में ढाल कर जिस तरह पिंजरे में बंद रखा था, आज वही तंत्र देश के आमजन के लिए जवाबदेह और विकास की नई इबारत लिख रहा है। मेक इन इंडिया स्टार्ट अप इंडिया जैसे अभियान रोजगार का संचार, करने वाले साबित हुए। यही कारण है कि प्रधानमंत्री के संबोधन में देश को हर बार नई उम्मीद और ऊर्जा का संचार होता है। जीवन के हर पहलू को स्पर्श करती प्रधानमंत्री मोदी की सोच और दर्शन उन्हें देश के भरोसे का प्रतीक बनाती है। महामारी का डटकर मुकाबला, हर कमद पर देशवासियों की मदद कोरोना महमारी ने पूरे विश्व को प्रभावित किया है। भारत ने इन परिस्थितियों का डटकर मुकाबला किया। देश के 80 करोड़ लोगों को मार्च से नवंबर तक मुफ्त राशन की व्यवस्था की गई है। 1.70 लाख करोड़ रूपये प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 20 लाख करोड़ रूपये की निधि से आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत हुई। गरीबों को रोजगार देने के लिए प्रधानमंत्री गरीब रोजगार योजना की शुरुआत की गई। कृषि के बुनियादी ढ़ांचे को दुरुस्त करने के लिए एक लाख करोड़ की व्यवस्था की गई। कोरोना से निपटने के लिए मास्क और सैनिटाइजर, पीपीई किट, फेस कवर और वेंटिलेटर्स निर्यात कर रहे थे। प्रधानमंत्री मोदी के छह साल के कार्यकाल में पहली बार लगा कि सरकार गरीबों के लिए कैसे काम करती हैं। देश को आगे ले जाने वाली सरकार कैसी होती है और देश के प्रति दुनिया के नजरिए में बदलाब लाने वाली सरकार है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Sep 17, 2020, 07:36 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




पीएम मोदी का 70वां जन्मदिन: जेपी नड्डा ने कहा- मोदी हैं, तो भरोसा है #JPNadda #Bjp #PmModi #Coronavirus #ShineupIndia