national

इसरो ने ऐतिहासिक मानवयुक्त मिशन के लिए नासा और स्पेसएक्स को दी बधाई

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने सोमवार को नासा और स्पेसएक्स को उनके मानवयुक्त मिशन के लिए बधाई दी और इसे ऐतिहासिक करार दिया। इसरो ने ट्वीट कर लिखा, 2011 के बाद पहले ऐतिहासिक मानवयुक्त मिशन के लिए नासा और स्पेसएक्स को बधाई। बहुत बढ़िया काम। स्पेसएक्स के ड्रैगन अंतरिक्ष यान ने दो नासा अंतरिक्ष यात्रियों के साथ रविवार को फ्लोरिडा में कैनेडी स्पेस सेंटर से एक ऐतिहासिक लॉन्च के बाद अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से सफलतापूर्वक उड़ान भरी। इससे वाणिज्यिक अंतरिक्ष यात्रा के एक नए युग की शुरुआत हुई। Congratulations to #NASA and #SpaceX for historic first launch of manned mission after 2011. Great job ! — ISRO (@isro) June 1, 2020 रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले नाम के दोनों अंतरिक्ष यात्रियों ने इस अभियान के लिए उड़ान भर कर इतिहास रच दिया है। 21 जुलाई 2011 के बाद पहली बार अमेरिकी धरती से मानव मिशन अंतरिक्ष में भेजा गया। स्पेसएक्स के विमान से रॉबर्ट बेनकेन और डगलस हर्ले नाम के अंतरिक्ष यात्रियों ने उड़ान भरी। करीब 19 घंटे के सफर के बाद अंतरिक्ष यात्री आईएसएस पहुंच गए।मिशन की सफलता के बाद कंपनी के मालिक मस्क का उत्साह देखने ही वाला था। बता दें कि यह पहली बार हुआ है जब किसी निजी कंपनी ने अंतरिक्ष यात्रियों को लॉन्च किया है। मिशन की सफलताके बाद एलन मस्क दोनों बाहें हवा में फैलाए नजर आए। उन्होंने कहा कि कैनेडी स्पेस स्टेशन से फॉल्कन 9 रॉकेट में नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को सफलतापूर्वक आईएसएस के लिए रवाना करने के बाद वह बहुत भावुक हो गए थे। भारत भी अपने पहले मानवयुक्त अंतरिक्ष अभियान गगनयान की तैयारी कर रहा है। 10,000 करोड़ रुपये की इस महत्वाकांक्षी परियोजना के भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के वर्ष 2022 में शुरू होने की उम्मीद है। इसके लिए भारतीय वायुसेना के चार पायलट मॉस्को में प्रशिक्षण ले रहे हैं। उन्हें इस परियोजना का संभावित उम्मीदवार माना जा रहा है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 01, 2020, 13:12 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




इसरो ने ऐतिहासिक मानवयुक्त मिशन के लिए नासा और स्पेसएक्स को दी बधाई #IndianSpaceResearchOrganisation #Nasa #Spacex #Gaganyaan #MannedMission #ShineupIndia