international

समझौता: भारतीय कामगारों को कुवैत में मिलेगा कानूनी संरक्षण

भारत के कामगारों को अब कुवैत में भी कानूनी संरक्षण मिलेगा। बतौर केंद्रीय मंत्री पहली बार कुवैत पहुंचे विदेशमंत्री एस जयशंकर ने बृहस्पतिवार को कुवैत के विदेशमंत्री शेख अहमद नसीर अल मोहम्मद अल सबाह के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस दौरान दोनों देशों के बीच स्वास्थ्य, शिक्षा, खाद्य, ऊर्जा, डिजिटल और व्यापार के क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने पर सकारात्मक चर्चा हुई। जयशंकर ने कुवैत के पीएम शेख सबाह खालिद अल-हमाद अल-सबाह से भी बातचीत की। जयशंकर ने ट्वीट किया, भारतीय समुदाय के मुद्दों को सुलझाने में कुवैत के खुलेपन की हम सराहना करते हैं। इस समझौते से हमारे कामगारों को अधिक कानूनी संरक्षण मिलेगा। इसके साथ ही हम कुवैत के साथ संबंधों की 60वीं वर्षगांठ के समारोह का शुभारंभ करते है। कुवैत में करीब 10 लाख भारतीय बसते हैं। विदेशमंत्री के साथ बातचीत के दौरान कुवैत के वाणिज्य मंत्री डॉ अब्दुल्ला इसा अल सलमान भी मौजूद रहे। दोनों देशों के बीच इन मुद्दों पर संयुक्त आयोग की बैठक आयोजित करने पर चर्चा हुई। जयशंकर ने कुवैत के पीएम शेख सबाह खालिद अल हमाद अल सबाह से भी बात की। उन्होंने दोनों देशों के की साझेदारी को नई ऊंचाइयों तक ले जाने की प्रतिबद्धताओं की सराहना की। दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों के 60 वर्ष होने पर जयशंकर बतौर विदेश मंत्री अपनी पहली कुवैत यात्रा पर पहुुंचे हैं। कुवैत के कार्यवाहक सहायक विदेशमंत्री अब्दुल रज्जाक अल खलीफा और राजदूत जासीम अल नजीम ने हवाईअड्डे पर उनका स्वागत किया। इस दौरान भारतीय राजदूत सिबी जॉर्ज और वरिष्ठ भारती अधिकारी भी मौजूद रहे। जयशंकर कुवैत में उच्च स्तरीय बैठकें करेंगे और वहां भारतीय समुदाय को भी संबोधित करेंगे। कुवैत में करीब 10 लाख भारतीय बसते हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jun 11, 2021, 03:32 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »


भारत के कामगारों को अब कुवैत में भी कानूनी संरक्षण मिलेगा। विदेशमंत्री एस जयशंकर ने बृहस्पतिवार को कुवैत के विदेशमंत्री शेख अहमद नसीर अल मोहम्मद अल सबाह के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए।