city-and-states

आगरा: ताजगंज श्मशान घाट पर एक दिन में 70 शवों का दाह संस्कार, देर रात तक जलती रहीं चिताएं

कोरोना संक्रमण की रफ्तार का असर अभी भी शहर के श्मशान घाटों पर दिख रहा है। सोमवार को भी दिनभर शव लेकर लोग घाटों पर पहुंचते रहे। ताजगंज मोक्ष धाम पर देर रात तक 70 शवों का अंतिम संस्कार किया गया। दिन में 12 बजे के बाद मोक्षधाम पर शवों की संख्या अचानक बढ़ गई। इस कारण परिजनों को लगभग दो घंटे तक अंतिम संस्कार का इंतजार करना पड़ा। कई लोगों ने तो मोक्षधाम के आसपास खाली पड़ी जमीन पर ही अपनों को मुखाग्नि दी। बिना एंबुलेंस के भी एक-दो शव लोग ई रिक्शा और थ्री व्हीलर में लेकर पहुंचे। कैलाश श्मशान घाट पर 06, पोइया घाट पर 10, बल्केश्वर श्मशान घाट पर 17 शव, आवास विकास श्मशान घाट पर 17 शवों का अंतिम संस्कार किया गया। ताजगंज मोक्षधाम के प्रभारी मनोज शर्मा ने बताया कि सेवक दिन-रात अंतिम संस्कार में लगे हुए हैं।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: May 04, 2021, 15:59 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

ताजगंज श्मशान घाट पर सोमवार को देर रात उठती रहीं की चिताओं की लपटें