city-and-states

तीन साल के इकलौते बेटे की अंत्येष्टि कराकर ड्यूटी पर लौटे सिपाही रिंकू कुमार, कहा- मेरे सदमे से बड़ा है राष्ट्र संकट

लॉकडाउन के दौरानमुजफ्फरनगर थाने में तैनात आरक्षी रिंकू कुमार के तीन साल के बेटे की अचानक मौत हो गई। वह मेरठ बेटे के अंतिम संस्कार के लिए पहुंचे लेकिन कोरोना के संकट को देखते हुए उन्होंने चार दिन बाद ही ड्यूटी ज्वाइन कर ली। किसी भी पिता के लिए इससे बड़ा सदमा शायद ही हो कि परिवार पर टूटे इस गम के पहाड़ में उनके साथ न हो। लॉकडाउन के दौरानमुजफ्फरनगर थाने में तैनात आरक्षी रिंकू कुमार के इकलौते बेटे हार्दिक की अचानक तबियत खराब हुई। एसओ सूबे सिंह से छुट्टी लेकर वह मेरठ गए। वहां बीमार बेटे को निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया। लेकिन तीन वर्षीय बेटे ने 15 अप्रैल को दम तोड़ दिया।बेटे के अंतिम संस्कार के लिए वह मेरठ पहुंचे लेकिन रिंकू ने देश सेवा के लिए वर्दी जो पहनी थी और इसका फर्ज वह कैसे भूल जाते, लिहाजा वह चार दिन बाद ही अपनी ड्यूटी पर लौट आए।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Apr 22, 2020, 18:03 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »




तीन साल के इकलौते बेटे की अंत्येष्टि कराकर ड्यूटी पर लौटे सिपाही रिंकू कुमार, कहा- मेरे सदमे से बड़ा है राष्ट्र संकट #CoronaUpdateInIndia #WestUpCoronaUpdate #MuzaffarnagarNews #MuzafarnagarPolice #CoronavirusUpdate #CoronavirusInWestUp #ShineupIndia