city-and-states

व्यवहार कुशल बनेंगे निजी बसों के चालक-परिचालक

शिमला। राजधानी शिमला में लोकल रूटों पर चलने वाली प्राइवेट बसों के चालक-परिचालक व्यवहार कुशल बनेंगे। परिवहन विभाग के सहयोग से इनके लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करवाया जाएगा। उन्हें मोटर व्हीकल एक्ट और पुलिस एक्ट की भी जानकारी दी जाएगी। रविवार को तारादेवी में आयोजित प्राइवेट मिनी बस ड्राइवर एंड कंडक्टर यूनियन शिमला की बैठक में यह फैसला लिया गया।यूनियन के प्रधान रूपलाल ठाकुर और सलाहकार विकास राणा ने बताया कि शिमला शहर में 103 प्राइवेट बसें चलती हैं, जिनमें 200 से अधिक चालक और परिचालक सेवाएं दे रहे हैं। यूनियन ने निर्णय लिया है कि सभी सदस्यों को आई कार्ड जारी किए जाएंगे। यूनियन की परिवहन निदेशक जेेएम पठानिया के साथ हुई बैठक में यह तय किया गया है कि जल्द ही सभी चालक-परिचालकों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसमें सवारियों के साथ और एक-दूसरे के साथ व्यवहार कैसा हो, इसे लेकर प्रशिक्षित किया जाएगा इसके अलावा यूनिफॉर्म अनिवार्य रूप से पहनने, सभी यात्रियों को टिकट जारी करने सहित अन्य विषयों की भी जानकारी दी जाएगी। प्रशिक्षण के दौरान मोटर व्हीकल एक्ट और पुलिस एक्ट के बारे में भी बताया जाएगाष यूनियन ने निर्णय लिया है कि जो सदस्य नियमों का पालन नहीं करेगा, उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। बैठक में प्राइवेट मिनी बस ड्राइवर कंडक्टर यूनियन शिमला के अध्यक्ष संजय ठाकुर, महासचिव अखिल गुप्ता, उपाध्यक्ष पीयूष वर्मा, सदस्य राकेश नेगी, यशपाल ठाकुर, जितेंद्र ठाकुर, राम कुमार, राज कुमार, ललित पुरी, अनिल ठाकुर, चुन्नीलाल और रोशन ठाकुर सहित अन्य सदस्य मौजूद रहे।अनुशासन समिति का गठन, अनुशासनहीनता की तो यूनियन से होंगे निष्कासितप्राइवेट मिनी बस ड्राइवर एंड कंडक्टर यूनियन शिमला ने 8 सदस्यीय अनुशासन समिति का भी गठन किया है। वरिष्ठ सदस्य संजय ठाकुर की अगुवाई में गठित इस समिति में रामकुमार, बंसीलाल, शिव नेगी, रोशन लाल, हरीश कुमार, दीपक और दुर्गादत्त बॉबी को सदस्य बनाया गया है। यह समिति अनुशासनहीनता की शिकायतों का 15 से 28 दिन के बीच निवारण करेगी और यूनियन के चेयरमैन और प्रधान को रिपोर्ट देगी। यदि कोई सदस्य नियमों का उल्लंघन करता है तो उसे जुर्माना होगा, आई कार्ड भी ज़ब्त किया जा सकता है और गंभीर परिस्थितियों में 6 महीने के लिए यूनियन से निष्कासित करने का भी प्रावधान किया गया है।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Jul 12, 2020, 21:48 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »

Read More:
Civic amenities



व्यवहार कुशल बनेंगे निजी बसों के चालक-परिचालक #CivicAmenities #ShineupIndia