hindi

सोनीपत: आशा वर्कर के गले से चेन झपटी, बहादुर बेटी ने पीछा कर आरोपी को दबोचा, लोगों ने पुलिस के हवाले किया

हरियाणा के सोनीपत में कच्चे क्वार्टर में सामान की खरीदारी करने आई आशा वर्कर के गले से युवक ने चेन झपट ली। वारदात को अंजाम देकर आठ मरला की तरफ भागे युवक का आशा वर्कर की बेटी ने शोर मचाते हुए पीछा किया। इस पर लोगों की मदद से आरोपी को दबोच लिया गया। इस दौरान आरोपी की पिटाई करने के बाद लोगों ने उसे पुलिस को सौंप दिया। सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पीड़िता ने मामले की शिकायत पुलिस को दी है। गांव रोहट की रहने वाली आशा वर्कर पूनम शुक्रवार देर शाम पति व तीन बेटियों कीर्ति, शिवानी और प्रियंका के साथ कच्चे क्वार्टर में खरीदारी करने आई थी। अंधेरा होने के चलते उन्होंने पति को पहले ही घर भेज दिया था। चारों मां-बेटी रात तक खरीदारी करती रहीं। बाजार में खरीदारी करने के बाद पूनम बेटियों संग कच्चे क्वार्टर से निकलकर सुभाष चौक की तरफ जाने लगी। इसी दौरान एक युवक पैदल पूनम के पास आया। उसने उसके पास आते ही उनके गले से दो तोले की चेन झपट ली। इस पर पूनम ने शोर मचा दिया। उनकी बेटी शोर मचाते हुए युवक के पीछे दौड़ी। उसे आठ मरला क्षेत्र में लोगों की मदद से दबोच लिया गया। लोगों ने युवक की पिटाई भी की। इसी दौरान सिविल लाइन थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस टीम ने आरोपी को हिरासत में लिया और थाने में ले गई। बताया जा रहा है कि युवक गांव नांगल कलां का रहने वाला है। पूनम ने मामले की शिकायत पुलिस को दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बेटी ने दिखाया साहस, शोर मचाते हुए पीछे भागती रही गले से चेन झपटने की घटना के बाद जहां आशा वर्कर पूनम बदहवास हो गई, वहीं उनकी बेटी कीर्ति ने होश नहीं खोया। चेन झपटकर आरोपी पैदल ही आठ मरला की गली में भागकर जाने लगा तो कीर्ति शोर मचाते हुए उसके पीछे भाग ली। इस पर आठ मरला की गली में राहगीरों की मदद से युवक को दबोच लिया गया। उसे पुलिस को सौंप दिया। कीर्ति ने साहस दिखाते हुए युवक को पकड़वाने में मदद की।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: May 14, 2022, 02:44 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »


पकड़े गए आरोपी को लोगों ने पुलिस के हवाले कर दिया। महिला दो बेटियों संग कच्चे क्वार्टर में सामान खरीदने आई थी। सिविल लाइन थाना पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।