movie-review

Bioscope S2: छह फ्लॉप के बाद यश चोपड़ा को चांदनी में मिला जीवनदान, श्रीदेवी ने गाया ये हिट गाना

हिंदी सिनेमा के सबसे प्रतिष्ठित प्रोडक्शन हाउस यशराज फिल्म्स के 50 साल पूरे होने के जश्न का मुंबई को अब भी इंतजार है। 1973 में रिलीज हुई पहली फिल्मदागसे लेकरदिसबंर 2019 मेंरिलीज हुई फिल्ममर्दानी 2तक यशराज फिल्म्स कुल 76 फिल्में बना चुकी है और इसकी आठ नई फिल्में निर्माणाधीन हैं। इन 81 फिल्मों में अगर किसी महिला किरदार के नाम पर बनी फिल्मों की बात करें तो ऐसी फिल्में सिर्फ दो हैं,नूरीऔरचांदनी। महिला विषयक दो और फिल्मेंमर्दानीऔरमर्दानी 2भी यशराज फिल्म्स के बैनर तले बन चुकी हैं। लेकिन, जिस फिल्म की बात मैं आज के बाइस्कोप में करने वाला हूं ये वो फिल्म है जिसने यशराज फिल्म्स को डूबने से बचाया। उधार के पैसे लेकर बनी यशराज फिल्म्स की शायद ये इकलौती फिल्म है। फिल्म में निर्माता के तौर पर यश चोपड़ा औरसहायक निर्माता के तौर परटी सुब्बीरामी रेड्डी का नाम है। अमिताभ बच्चन, शत्रुघ्न सिन्हा, शशि कपूर, राखी, परवीन बाबी, नीतू सिंह और संजीव कुमार स्टारर फिल्मकाला पत्थरके बाद यशराज फिल्म्स की छह बैक टू बैक फिल्मेंनाखुदा (1981),सिलसिला (1981),सवाल (1982),मशाल (1984),फासले (1985)औरविजय (1988)वैसा करिश्मा करने से चूक गई जैसी कि इनसे उम्मीद की गई थी।इनमें सेसिलसिला,फासलेऔरविजयने बतौर फिल्म निर्देशक यश चोपड़ा की तिजोरी और साख दोनों को काफी चोट पहुंचाई। लेकिन, साल 1989 के सितंबर महीने में जबचांदनीरिलीज हुई तो इसने आगे पीछे के सारे हिसाब बराबर कर दिए।

  • Source: www.amarujala.com
  • Published: Sep 15, 2021, 13:15 IST
पूरी ख़बर पढ़ें »


फिल्म चांदनी की कहानी कामना चंद्रा की लिखी है। स्त्री पुरुष संबंधों पर उनकी लिखी कहानी प्रेम रोग साल 1982 में सुपरहिट हो चुकी थीं। बीच में एक टेलीविजन धारावाहिक भी कामना ने लिखा तृष्णा के नाम से।